ब्लॉगिंग का बिहारी अंदाज़ – The Bihari way of Blogging

किस्सा कुछ ऐसा हुआ कि शाम होते ही बारिश आ गई। गर्मी से छुटकारा तो मिला, पर मेरे गाँव के ‘जनेटर’ वाले के तारों में वो बात कहाँ जो हवा के थपेड़ों को झेल सके!  बस… लटक गयी हमारे घर की रोशनी। अब ससुरा बिजली भी ऐसे मौकों पर धोखा देने से तो चूकती नहीं। तो मेरे इस अपरिपक्व बिहारी दिमाग को यही तरीका सूझा कीबोर्ड पर ऊँगलियों को नचता हुआ देख सकने का :-

image
Fulfilling the lack of electricity with a kerosene lamp for typing. Cool, or Crazy?

नाऊ आई कैन टाइप एण्ड कीप एन आई ऑन थिंग्स। देयर इज़ नो सैटिसफ़ैक्शन इन टाइपिंग विदाउट सीइंग द मैजिक ऑफ़ माय फ़िंगर्स विद माय ओन आइज़।

; -)

PS. राजनीति वाले लोगों को पहले ही क्लियर कर दें – आई डोन्ट सपोर्ट RJD

Advertisements

One thought on “ब्लॉगिंग का बिहारी अंदाज़ – The Bihari way of Blogging

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s